About Cancel Cheque In Hindi

About Cancel Cheque In Hindi : कैंसिल चेक की जरुरत कब पड़ती है

Banking Interesting Story

जब कभी हमें बड़ी रकम का transactions करना होता है तो कई बार हम cheque का इस्तेमाल करते हैं. कई बार ऐसा भी होता है जब कभी किसी व्यक्ति के पास हमारा बकाया राशि होता है वह व्यक्ति हमारे नाम से बकाया राशि जितना cheque काटकर दे देता है, हमारा कहने का तात्पर्य है की cheque से भलीभांति परिचित होते हैं.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि Cancel Cheque क्या होता है?

हमारी रोजमर्रा की ज़िन्दगी में कई बार ऐसे मौके आते हैं जहाँ हम cancel cheque के बारे में सुनते हैं या कई बार कोई हमसे cancel cheque की demand भी करते हैं. बहुत से लोग इसके बारे में अच्छे से जानते हैं किन्तु कई लोग ऐसे भी होते है जो cancel cheque का उपयोग करने के बाद भी इसके बारे में नहीं जानते हैं कि वास्तव में यह क्यों माँगा जाता है? इसकी जरुरत क्यों पड़ती है.

यदि आप विस्तार से कैंसिल चेक के बारे में समझना चाहते हैं तो आज का ये लेख – “About Cancel Cheque In Hindi : कैंसिल चेक की जरुरत कब पड़ती है” धयान से पूरा पढ़ें.

About Cancel Cheque In Hindi : Introduction

यदि आप cheque से परिचित हैं तो आपको ज्यादा confuse होने की जरुरी नहीं है आप आसानी से समझ जायेंगे कि cancel cheque क्या होता है. यह कोई अनोखी चीज नहीं है यह बैंक ग्राहकों द्वारा उपयोग किया जानेवाला सामान्य चेक ही है.

किन्तु जब आप उस सामान्य चेक में ही CANCELLED लिखकर दो तिरछी लकीर खिंच देते हैं तो वही चेक कैंसिल चेक कहलाता है.

यहाँ पर इस बात का ध्यान रखना है कि जब भी आप किसी को cancel cheque देते हैं तो आपको सिर्फ दो तिरछी लाइन खींचकर बड़े – बड़े अक्षरों में CANCELLED लिखना होता है और इसके आलावा और कुछ नहीं.

अब आपके मन एक एक प्रश्न उठ रहा होगा कि आखिर बड़े – बड़े शब्दों में चेक के ऊपर दो तिरछी लाइन खींचकर CANCELLED क्यों लिखा जाता है?

इसका सीधा सा जवाब यही है कि जब हम  बड़े – बड़े शब्दों में चेक के ऊपर दो तिरछी लाइन खींचकर CANCELLED लिखते हैं तो कोई भी हमारा चेक का गलत इस्तेमाल नहीं कर सकता है.

हम किसी भी बैंक के normal चेक को कैंसिल चेक बना सकते हैं.

अब आप समझ गये होंगे कि हम किसी भी बैंक के normal cheque को cancel cheque कैसे बनाते हैं किन्तु अब हमें ये समझना है कि यह क्यों बनाया जाता है? इसका उद्देश्य क्या है?

Cancel Cheque क्यों दिया जाता है?

जब भी आप कभी किसी को कैंसिल चेक देते हैं तो वास्तव में आप अपना नाम, IFSC कोड, account number यानि बैंक अकाउंट से सम्बंधित जानकारी दे रहे होते हैं. जब किसी normal चेक को धारक द्वारा कैंसिल कर दिया जाता है तो उस cancel से कोई transactions नहीं हो सकते हैं. 

चलिए आगे जानते हैं कि इसकी जरुरत कब पड़ती है –

Cancel Cheque की जरुरत कब पड़ती है?

जब कभी आप किसी संस्था से loan प्राप्त करना चाहते हैं या installment में कोई चीज खरीदते हैं तो आपसे cancel चेक माँगा जाता है. यह इसलिए माँगा जाता है कि वास्तव में वो आपका ही खाता है जिस खाते से प्राप्त की गयी ऋण की क़िस्त काटा जाएगा. 

जब आप कोई insurance policy, कहीं निवेश करते हैं, नया बैंक खाता खोलने के लिए, कुछ कंपनियों से कई बार भुगतान पाने के लिए भी कैंसिल चेक की demand की जा सकती है. 

नोट : कभी भी कैंसिल चेक में अपना हस्ताक्षर न करें ध्यान रहे इसप्रकार के चेक में केवल दो तिरछी लाइन खींचकर CANCELLED ही लिखा जाता है.

तो दोस्तों आशा करता हूँ कि आपको आज का ये लेख “About Cancel Cheque In Hindi : कैंसिल चेक की जरुरत कब पड़ती है” जरुर पसंद आई होगी और पसंद आई है तो इस लेख को सोशल साइट्स में शेयर करना ना भूलें. 

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *