मच्छर के बारे में रोचक तथ्य : Mosquito in hindi

Amazing facts about mosquito in hindi

मचछर से हम सभी भलीभांति परिचित हैं। यह छोटा सा जीव बहुत सारे बिमारियों का कारण है। इससे बचाव के लिए हम बहुत सारे तरीके अपनाते हैं और इसे भागने के लिए बहुत सारे प्रोडक्ट्स का उपयोग भी करते हैं क्योंकि मच्छरों से होने वाली गंभीर बीमारियों को हम जानते हैं।

मच्छर बहुत सारे रोगों को फैलानेवाली जीवाणुओं को अपने साथ लेकर आता है। यह हमारे लिए किसी दुश्मन से कम नहीं है। तो आज के लेख mosquito in hindi के जरिये जानिये अपने दुश्मन को। इसे आप हानिकारक, जानलेवा, खतरनाक जो चाहे कह सकते हैं आपकी मर्जी…..

मचछरों का रहने का स्थान

क्या आप जानते हैं की मच्छरों का रहने का स्थान क्या है ?

मच्छर नमी वाले जगहों, जमा हुआ जल या स्थिर जल, जहाँ पर अँधेरा हो, तालाब, गड्ढों जैसे जगहों पर वास करता है। यही नहीं आपके घर के अँधेरे कोनो में भी मच्छर छिपे होंगे जरा धयान से देखिये …..अब आप सोचिये की आपके घर के आस -पास ऐसी कोई जगह है या नहीं यदि है तो आप समझ ही गए होंगे की मच्छरों से बचाव के लिए पहला कदम क्या उठाना है।

अक्सर हम सिर्फ विभिन्न तरह के मच्छर मारने वाले प्रोडक्ट्स पर ज्यादा निर्भर रहते हैं और हम अपने आस-पास की गन्दगी, जमे हुए या स्थिर जल तथा विभिन्न प्रकार के गंदगियों को नजरअंदाज कर देते हैं जो मच्छरों की वृद्धि के मूल कारण हैं। मच्छरों को पैदा होने से रोकने के लिए घर के आस-पास पानी का जमाव नहीं होने देना चाहिये।

इन्हें भी जाने : बालों के बारे में रोचक तथ्य

बारिश के मौसम अपने साथ खुशहाली लाता है, समृद्धि लाता है किन्तु अपने साथ बीमारियां भी लाता है। ऐसे मौसम में मच्छर बहुत पनपते हैं। बारिश का मौसम अपने साथ डेंगू या मलेरिया जैसे घातक बीमारियां ले कर आता है जो कई मामलों में जानलेवा भी होता है।

amazing facts about mosquito in hindi

क्या आप जानते हैं?

इस समय धरती पर 3000 से भी ज्यादा प्रजातियों के मच्छर मौजूद हैं।

 सिर्फ मादा मच्छर ही खून चूसते हैं और नर मच्छर के मुकाबले मादा मच्छर की आयु भी ज्यादा होती है।

मच्छर वायरस और पैरासाइट के जरिये विभिन्न तरह की बीमारियों को फैलाते हैं।

दरअशल मच्छर की गुनगुनाने की आवाज़ जो आप सुनते हैं वह उसकी बहुत तेज़ी से पंख फड़फड़ाने के कारण निकलती है।

मच्छर एक सेकेण्ड में लगभग 500 से 600 बार पंख फड़फड़ाता है और पंख फड़फड़ाने के कारण निकलने वाली आवाज को आप उसका गाना समझते हैं।

मलेरिया, डेंगू , चिकनगुनिया जैसे खतरनाक बीमारियां मच्छरों के काटने से होते हैं।

मच्छरों को नीला रंग ज्यादा आकर्षित करते हैं। यदि आपका ब्लड ग्रुप ‘O’ है तो बच के रहिये क्यूंकि मच्छर अन्य ब्लड ग्रुप वालों के मुकाबले इस ब्लड ग्रुप वालों को ज्यादा काटते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: