Courses after 10th class in Hindi : 10th के बाद क्या करें?

अच्छी शिक्षा (education) जीवन में प्रगति करने के लिए कितना महत्वपूर्ण है ये बात हम सभी अच्छी तरह समझते हैं. 10th की परीक्षा पास करने के बाद विद्यार्थियों के सामने एक प्रश्न जरुर आता है – 10th के बाद कौन सा कोर्स करें? आजकल के आधुनिक युग में जब internet की पहुँच आसान है तो हम किसी भी सवाल का जवाब net की मदद से ढूंढ सकते हैं. 

यदि आप इस बात से confuse हैं और ये decide नहीं कर पा रहे हैं कि 10th के बाद Science, Arts या Commerce में से कौन सी stream का चुनाव करें तो आज का ये post पूरा पढ़ें. अक्सर students यह तय नहीं कर पाते हैं कि कौन सी stream उनके लिए बेहतर है? 10th के बाद लिया गया कोई भी निर्णय जीवन के लिए महत्वपूर्ण होता है. इस समय लिया गया कोई भी निर्णय आपके संपूर्ण जीवन को प्रभावित करता है. बहुत सारे students जानकारी के आभाव में, जल्दीबाजी में, बिना सोंचे समझे कोई भी subject चुन लेते हैं और आगे पछताते हैं.

आपके साथ ऐसा न हो इसके लिए आपको पूरी जानकारी प्राप्त करना होगा कि 10th के बाद आप कौन – कौन सा कोर्स कर सकते हैं. आपका कौन सा विषय में रूचि है? आप कोई प्रोफेशनल कोर्स करना चाहते हैं या आप कोई ट्रेडिशनल विकल्प की तलाश में हैं? ऐसे सभी प्रश्नों का उत्तर पाने के लिए आज का लेख 10th ke baad kya kare? अंत तक पढ़े. 

10th ke baad kya kare? 

आजकल, देश के विभिन्न हिस्सों में सभी छात्रों के लिए बहुत सारे पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं. आप इनमें से किसी भी पाठ्यक्रम का चयन कर सकते हैं और एक शानदार कैरियर की ओर अग्रसर हो सकते हैं. आप Science (विज्ञान), Arts (कला) या Commerce (वाणिज्य) stream के आलावा आप Diploma या Professional course भी कर सकते हैं. आइये विस्तारपूर्वक सभी courses के बारे में जानते हैं.

1  Science (विज्ञान) stream के अंतर्गत आनेवाले प्रमुख विषय 

प्रायः students या उनके अभिभावकों का पसंदीदा stream के रूप में जाना जाता है science stream. यह एक attractive विषय होने के साथ – साथ बेहतरीन career विकल्प प्रदान करता है. यदि आपका सपना आगे चलकर doctor, engineer बनने का है या  IT और computer science के क्षेत्र में career की तलाश में हैं तो आप science stream का चुनाव कर सकते हैं. Science थोडा tough जरुर होता है लेकिन एक मजेदार विषय है.

Science के student का एक सबसे बड़ा फ़ायदा यह होता है की यदि उन्हें यह विषय uncomfortable लगे या अन्य कोई कारण से बदलना चाहे तो वह इसे बदलकर arts या commerce stream का चुनाव कर सकता है. जबकि Arts या commerce के student को यह मौका नहीं मिलता है. Science stream के अंतर्गत आनेवाले मुख्य विषय निम्नलिखित हैं:

Physics (भौतिक शास्त्र ) : यह विज्ञान के अंतर्गत आनेवाला एक बहुत ही प्रमुख विषय है. सामान्यतः यह देखा गया है कि जिन लोगों की रूचि गणित विषय में होती है उन्हें physics पढना भी बहुत पसंद होता है. Physics पदार्थ और उर्जा का अध्ययन करनेवाला विज्ञान है. इसका क्षेत्र बहुत ही व्यापक है. अन्तरिक्ष में हो रही प्राकृतिक घटनाओं का विश्लेषण इसी विषय के अंतर्गत किया जाता है. यह विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत उर्जा के विभिन्न स्वरूपों , द्रव्य और उनकी अंतक्रियाओं का अध्ययन किया जाता है भौतिक शास्त्र कहलाता है.”

Chemistry (रसायन शास्त्र) : यह विज्ञान की एक ऐसी शाखा है जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के पदार्थों की संरचना, उसके निर्माण की विधि, गुण-धर्मों, पदार्थों का एक रूप से दूसरे रूप में परिवर्तन होना, रासायनिक प्रतिक्रिया के दौरान इनमें हुए परिवर्तन आदि का विस्तृत अध्ययन करना रसायन विज्ञान कहलाता है. 

Biology (जीव विज्ञान) : यह विज्ञान की एक ऐसी शाखा है जिसमें जीवों की संरचना, कार्य, विकास, पहचान, इतिहास, वितरण, एवं उनके वर्गीकरण का विस्तारपूर्वक अध्ययन किया जाता है. सामान्य भाषा में यदि कहा जाय तो जीवविज्ञान के अंतर्गत जीवों का अध्ययन किया जाता है. यह विज्ञान  पेड़ – पौधों, जीवों और विषाणुओं के रूप में जीवों की उत्पत्ति, शारीरिक विशेषताओं, जीवन आदि से संबंधित विषय है. जीव विज्ञान में वनस्पति विज्ञान, प्राणी विज्ञान और सूक्ष्म जीव विज्ञान आदि शामिल है.

Mathematics (गणित) : गणित संख्याओं, मात्राओं, परिमाणों, रूपों  आकार और व्यवस्था का नियमपूर्वक विवेचन करने वाली विद्या है. यह विषय हमारी रोजमर्रा की ज़िन्दगी से जुड़ा हुआ विषय है. इसके आलावा science stream के अंतर्गत आने वाले अन्य विषय हैं – Biotechnology, English और Computer Science.

10th के बाद यदि आप Medical field का चुनाव करना चाहते हैं तो आपको PCB (Physics, Chemistry, Biology) group चुनना पड़ेगा और Engineering field में जाना चाहते हैं तो PCM (Physics, Chemistry, Mathematics) group चुनना पड़ेगा. PCM ग्रुप वाले engineering के आलावा अन्य field में भी जा सकते हैं. PCMB (Physics, Chemistry, Math, Biology) इसे general ग्रुप कहा जाता है और इस ग्रुप वाले छात्र किसी भी field में जा सकते हैं.

Science stream के छात्रों के लिए कैरियर विकल्प

Medical Stream : इस स्ट्रीम में career बनाने के लिए क्षत्रों को फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी को अपने मुख्य विषयों के रूप में लेना होगा. जिनकी रूचि बायोलॉजी में है वे मेडिकल लाइन में अपना करियर बना सकते हैं. वे निम्नलिखित विकल्प चुन सकते हैं:

  • Biochemistry
  • Microbiology
  • Anatomy
  • Pathology
  • Genetics
  • Embryology
  • Paramedical courses (X-Ray/Radiology technician, Dialysis Technician, Nursing, ECG assistant, Ophthalmic Assistant, DMLT- Diploma in Medical Laboratory Technology, etc.)
  • Diploma courses (Diploma in X-Ray Technology, Diploma is ECG technology, Diploma in anesthesia technology, Diploma in Medical laboratory Technology etc.)
  • Bachelor’s degree ( B.Sc. in Medical Record Technology, Bachelor of Physiotherapy, B.Sc. in Anesthesia technology, B.Sc. in Optometry, B.Sc. in audiology etc.)

Engineering Stream : इस स्ट्रीम में छात्रों को अपने मुख्य विषयों के रूप में मैथ्स, भौतिकी और रसायन विज्ञान का विकल्प चुनने की जरुरत है. इस स्ट्रीम के अंतर्गत आप निम्नलिखित विकल्प का चुनाव कर सकते हैं:

  • Mechanical Engineering
  • Civil Engineering
  • Electrical Engineering
  • Bio – Medical Engineering
  • Information Technology
  • Industrial Engineering
  • Marine Engineering
  • Computer Science Engineering
  • Aeronautical Engineering
  • Nuclear Engineering
  • Electronics and telecommunication Engineering

2 Commerce (वाणिज्य) stream के अंतर्गत आनेवाले प्रमुख विषय 

Commerce stream 12th कक्षा के बाद आगे बढ़ने के लिए कैरियर विकल्प के तौर पर विस्तृत क्षेत्र प्रदान करती है. यह भारत में एक काफी लोकप्रिय विषय है. इस क्षेत्र में सफल होने के लिए निश्चित योग्यता होनी चाहिए. Commerce stream के अंतर्गत आने वाले प्रमुख विषय निम्नलिखित हैं:

Accountancy (लेखांकन) : किसी वित्तीय लेनदेन को क्रमबद्ध रूप से लेखबद्ध करने, उनका वर्गीकरण करने,सारांश तैयार करने एवं उनको विश्लेषणात्मक रूप से प्रस्तुत करने की कला को लेखांकन कहते हैं. सरल शब्दों में यदि कहा जाए तो इस विषय के अंतर्गत हिसाब – किताब के बारे में सिखाया जाता है. 

Economics (अर्थशास्त्र) : यह सामाजिक विज्ञान की ऐसी शाखा है जिसमें वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन, वितरण, विनिमय और उपभोग का विस्तृत अध्ययन किया जाता है. इस विषय को ‘धन का अध्ययन’ का विषय भी कहा जाता है. यह बहुत प्राचीन विद्या है.

Business Studies (बिजनेस स्टडीज) : जैसा की नाम से ही पता चल रहा है इस विषय के अंतर्गत business से सम्बंधित बातें सिखाई जाती है. इसके आलावा इस stream में Mathematics, English, Information Practices पढाया जाता है.

Commerce stream के छात्रों के लिए कैरियर विकल्प

  • CA (Chartered Accountancy)
  • CS (Company Secretary)
  • Banking
  • Management Courses
  • Law Courses
  • CMA (Cost & Management Accountant)
  • B.Com
  • BMS (Bachelor of Management Studies)
  • Retail Management 
  • Mass Communication
  • Marketing
  • Designing Courses
  • Financial Analysis

See Also:

» Air hostess complete information in hindi

3 Arts (कला) stream के अंतर्गत आनेवाले प्रमुख विषय

बहुत सारे छात्रों का सोंच होता है कि Arts एक आसान विषय है और ऐसा ही सोंचकर वे इस विषय को चुनते हैं किन्तु ऐसा बिल्कुल नहीं है. मानविकी को परिभाषित करना इतना आसान नहीं है. यह मानव स्थिति’ के अध्ययन से संबंधित विषय है. इस विषय को चुनकर हम राजनीती विज्ञान, समाजशास्त्र जैसे बड़े विषयों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जिसमें कैरियर की आपार संभावना है. Arts stream के अंतर्गत आने वाले प्रमुख विषय निम्नलिखित हैं:

History (इतिहास) : इस विषय के अंतर्गत प्राचीन काल की अथवा विगत काल की घटनाओं का वर्णन कालक्रमानुसार होता है. इसका क्षेत्र बहुत ही व्यापक है. यह सामाजिक विज्ञान की ऐसी शाखा है जिसके अंतर्गत अतीत काल की घटनाओं और उससे सम्बन्ध रखनेवाले व्यक्तियों का अध्ययन शामिल है. 

Geography (भूगोल) : इसके अंतर्गत देश, महादेश,पर्वत, नगर, नदी, समुद्र, झील, डमरुमध्य, वन, जलवायु, उत्पादन, जनसँख्या, राजनितिक विभाजन आदि का अध्ययन शामिल है. सामान्य भाषा में यदि कहा जाए तो यह वह विज्ञान है जो पृथ्वी के धरातल का वर्णन   करता है. 

Political Science (राजनीति विज्ञान) : यह विषय राजनीतिक चिंतन, इसके सिद्धान्त, दर्शन आदि के अध्ययन से सम्बंधित है. 

Psychology (मनोविज्ञान) : इस विषय में मानसिक प्रक्रियाओं, व्यक्त व अव्यक्त व्यवहारों, अनुभवों आदि का क्रमबद्ध अध्ययन किया जाता है.

Sociology (समाजशास्त्र) : यह विषय मानव समाज के अध्ययन से सम्बंधित है. इसमें रोजमर्रा की जिंदगी की संस्कृति का अध्ययन किया जाता है. मानव के सामाजिक संबंधों का यह एक विविधतापूर्ण विषय है. इसके आलावा Arts Stream में English/Hindi साहित्यपढाया जाता है. ये सभी common subject हैं इसके अतिरिक्त और भी कई विषय होते हैं जो जैसे – Home Science, Fine Arts, Physical Education, Music आदि  विषय college/university पर निर्भर करते हैं. 

Arts stream के छात्रों के लिए कैरियर विकल्प

  • BA in History and Archaeology
  • BA in Foreign Languages
  • Civil Services
  • Economist 
  • Library Management
  • Political Science
  • BA in Fine Arts
  • Journalism and Mass Communication
  • BA in Interior Designing
  • Anthropology
  • Animation and Multimedia
  • Law
  • Psychology
  • Philosophy
  • BA in Music and Theatre
  • BA in Yoga and Naturopathy
  • Travel and Tourism Industry 
  • Hotel Management
  • Fashion Designing
  •  Interior Designing
  •  Physical Education

10 वीं के बाद करियर विकल्प पर एक नज़र 

– Intermediate: जब आप high school (10th) पास करते हैं तो आपको कॉलेज में स्नातक के रूप में दाखिला लेने से पहले  दो वर्षों का इंटरमीडिएट कोर्स करना पड़ता है. Intermediate Science, Arts, Commerce stream से कर सकते हैं. 

– Polytechnic: 10th पास करने के बाद आप polytechnic में admission ले सकते हैं. यह एक popular diploma कोर्स है जिसे 10th या 12th के बाद किया जाता है. इस कोर्स को करने के लिए आपको Common Entrance Test देना होगा. यदि आप किसी भी क्षेत्र में इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो आप इस field को चुन सकते हैं. यह कोर्स पुरे तीन वर्षों का होता है. इस कोर्स को करने का सबसे बड़ा फ़ायदा यह है कि यदि आप चाहें तो polytechnic करने के बाद direct डिग्री के लिए बी. टेक के second year में एडमिशन ले सकते हैं. यह एक टेक्निकल कोर्स है. कुछ polytechnic कोर्स इस प्रकार हैं:

  • Diploma in Computer Engineering
  • Diploma in Electrical Engineering
  • Diploma in Electronics and Communication Engineering
  • Diploma in Computer Science Engineering
  • Diploma in IT Engineering
  • Diploma in Civil Engineering
  • Diploma in Interior Decoration
  • Diploma in Art and Craft
  • Diploma in Ceramic Engineering

पॉलिटेक्निक कोर्स पूरा करने के बाद सरकारी क्षेत्र या निजी क्षेत्र में आपके लिए कैरियर के कई अवसर उपलब्ध हैं. 

– ITI (Industrial Trading Institute): औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) एक training कोर्स है जो छात्रों को सरकारी या private नौकरी प्राप्त करने में मदद करती है. इस कोर्स को करने के लिए minimum शैक्षणिक योग्यता 8 वीं कक्षा या दसवीं कक्षा तक होनी चाहिए और इस कोर्स को 12th के बाद भी किया जा सकता है. ITI संस्थान दो प्रकार के होते हैं Government और Private. यह एक industrial कोर्स है जहाँ पर छात्रों को industry level पर काम करने के लिए तैयार किया जाता है. कुछ ITI कोर्स इस प्रकार हैं: 

  • Electrician
  • Plumber
  • Fitter
  • Technician
  • Carpenter
  • Mechanic

Paramedical: वैसे छात्र जो जो 10 वीं, 12 वीं या स्नातक स्तर की पढ़ाई कर चुके हैं paramedical कोर्स कर सकते हैं. यह मेडिकल साइंस फील्ड से जुड़ा क्षेत्र है. इस क्षेत्र में काम करनेवाले व्यक्ति को सहायक चिकित्सक भी कहा जाता है. यह कोर्स मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं – Degree Paramedical Courses, Diploma Paramedical Courses और Certificate Paramedical Courses. कुछ paramedical कोर्स इस प्रकार हैं:

  • Diploma in Medical Laboratory Technology
  • Diploma in Dialysis Technology
  • Diploma in Hospital Food Service Management
  • B.Sc Nursing
  • B.Sc. in X-Ray Technology
  • Diploma in Nursing Care Assistant
  • General Nursing Midwifery (GNM)
  • Auxiliary Nursing Midwifery (ANM)
  • X-Ray Technician
  • Operation Theatre (OT) Assistant
  • ECG and CT Scan Technician

10 वीं कक्षा के बाद नौकरी के अवसर

भारत सरकार, साथ ही विभिन्न राज्य सरकारें, विभिन्न विभागों, कार्यालयों और मंत्रालयों में बहुत प्रकार की नौकरियों की पेशकश 10 वीं पास छात्रों के लिए भी करती हैं जैसे Railway (Railway Recruitment Board ), Defense, SSC (Staff Selection Commission), Banking Sector, State level jobs आदि. 10th पास करने के बाद आप Clerk, Peon, Station Master, Multi-tasking Staff, Machinists, Fitter, Data entry Operators, Lower Division Clerks, Sweeper, Forest guard जैसे job पा सकते हैं या उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं.

मुझे आशा है कि 10th ke baad kya kare? आपके लिए जरुर उपयोगी होगी और आपको पसंद आई होगी. यदि इस लेख में आपको कोई doubt हो या कोई question आपके मन में हो तो आप हमें comment कर सकते हैं. कृप्या इस पोस्ट को अपने दोस्तों के बीच share करना ना भूलें. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: