IFSC Code kya hai

IFSC Code kya hai? IFSC का फुल फॉर्म क्या है

Banking

जब बात आती है एक बैंक से किसी दुसरे बैंक खातों में पैसे transfer करने की तो वहां पर IFSC Code की जरुरत होती है. लोग इस कोड का उपयोग करके बड़े ही आसानी से किसी दूसरे के बैंक खातों में fund transfer कर सकते हैं.

यदि आपका भी किसी बैंक में account है तो आपके बैंक ब्रांच के हिसाब से उसका भी एक unique code होगा जिसे आईएफएससी कोड के नाम से जानते हैं. आपको बता दें कि एक शहर में किसी एक बैंक की कई शाखाएं मौजूद हो सकती हैं और प्रत्येक शाखा का अपना एक कोड होता है.

आज के लेख के जरिये हम IFSC Code के बारे में ही विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे तो चलिए जानते हैं कि – IFSC Code kya hai? IFSC Code का format कैसा होता है? IFSC Code क्यों जरुरी है?

IFSC Code kya hai?

IFSC कोड रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा बैंकों के प्रत्येक शाखा को प्रदान किया गया 11 करैक्टर का एक अल्फान्यूमेरिक कोड है. इस कोड के जरिये विभिन्न बैंकों की शाखाओं की पहचान की जा सकती है क्योंकि वास्तव में यह बैंकों की प्रत्येक शाखाओं का पता को प्रदर्शित करता है.

प्रत्येक बैंक शाखा का अपना एक ब्रांच कोड होता है और कभी भी दो अलग – अलग शाखाओं का ब्रांच कोड एक जैसा नहीं हो सकता है चाहे वह ब्रांच कोड एक ही बैंक के अलग – अलग शाखाओं का ही क्यों न हो.

मान लीजिये आपके शहर में स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के चार ब्रांच हैं तो उन चारों ब्रांच का आईएफएससी कोड अलग – अलग होगा.

IFSC कोड का पूर्ण रूप (full form) Indian Financial System Code होता है जिसे आमतौर पर हम IFSC कोड के नाम से ही जानते हैं.

IFSC Code का format कैसा होता है?

यदि आपके पास बैंक पासबुक या चेकबुक है तो आप उसपर अंकित IFSC Code को देख सकते हैं और जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया है यह 11 करैक्टर का एक अल्फान्यूमेरिक कोड होता है जो देखने में निम्नप्रकार का होता है –

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के किसी ब्रांच का आईएफएससी कोड SBIN0015013 है, उसी तरह बैंक ऑफ़ इंडिया का किसी ब्रांच का आईएफएससी कोड BKID0008531 है.

ऊपर दिए गए आईएफएससी कोड को ध्यान से देखिये जहाँ पर शुरू के चार अंक बैंक नाम को प्रदर्शित कर रहे हैं जैसे SBIN – स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, BKID – बैंक ऑफ़ इंडिया इसके बाद पांचवा अंक 0 है और इसके बाद आखिरी के जो 6 अंक है वह ब्रांच कोड को प्रदर्शित करता है.

IFSC Code क्यों जरुरी है?

यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है जिसका उत्तर हम सभी को अवश्य पता होना चाहिए कि – IFSC Code क्यों जरुरी है? चलिए जानते हैं कि यह कोड क्यों आवश्यक है –

IFSC Code का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक भुगतान करने के लिए किया जाता है जैसे –

  • यदि आप RTGS, NEFT, IMPS करना चाहते हैं तो
  • इंटरनेट बैंकिंग/ऑनलाइन भुगतान आदि करने के लिए

IFSC Code एक नज़र में

  • IFSC का फुल फॉर्म – Indian Financial System Code होता है
  • हर बैंक ब्रांच के हिसाब से उसका एक अलग IFSC कोड होता है
  • Online transactions के लिए यह उपयोगी है
  • यह 11 करैक्टर का एक अल्फान्यूमेरिक कोड है
  • यह किसी बैंक ब्रांच का पता (address) है
  • यह कोड RBI द्वारा बैंकों के प्रत्येक ब्रांच को दिया जाता है
  • इस कोड को आप अपने पासबुक या चेकबुक में देख सकते हैं
  • ऐसे कई websites मौजूद हैं जहाँ से आप अपने बैंक ब्रांच का IFSC पता कर सकते हैं

अंतिम बात

वास्तव में IFSC कोड का उपयोग करके हम अपने बैंक transactions को आसान बना सकते हैं और वर्तमान समय में जैसे – जैसे electronic रूप से fund transfer करने के तरीकों में वृद्धि होती जा रही है वैसे समय में प्रत्येक बैंक ग्राहक को इस यूनिक कोड से परिचित होना जरुरी है.

तो दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको यह लेख जरूर पसंद आयी होगी और आपके लिए उपयोगी भी सिद्ध होगी. यदि आपको यह लेख पसंद आयी है तो कृपया इस पोस्ट को like, share और comment करना ना भूलें.

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *