ITI ka Full form kya hai

ITI ka Full form kya hai? ITI course details in Hindi

Business

ITI ka Full form kya hai? ITI कोर्स, नाम तो सुना होगा आपने, चलिए, आज के इस लेख के जरिये इस कोर्स के बारे में विस्तारपूर्वक पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं.

वास्तव में ITI कोर्स उनके लिए है जो बहुत आगे तक पढ़ाई करने में सक्षम नहीं हैं या नहीं करना चाहते हैं अर्थात जल्दी नौकरी की चाहत रखनेवाले लोगों के लिए इस इंडस्ट्रियल कोर्स (Industrial course) को करना लाभदायक साबित हो सकता है.

ITI कोर्स कर रहे छात्रों के ऊपर इस बात पर अधिक बल दिया जाता है कि उनको ज्यादा से ज्यादा व्यावहारिक ज्ञान दिया जाए ताकि उनमें कौशल विकसित हो सके. छात्रों को वास्तव में industry-specific कौशल दिया जाता है जो उन्हें औद्योगिक स्तर पर प्रशिक्षित करता है.

ITI कोर्स कर रहे छात्रों के पास अपनी पसंद अनुसार ट्रेड जैसे इलेक्ट्रीशियन, फिटर, वेल्डर आदि का चुनाव करने का भी विकल्प मौजूद होता है.

चलिए, विस्तारपूर्वक जानते हैं कि – ITI ka Full form kya hai? ITI क्या है?, ITI में नामांकन के लिए अप्लाई कब करे?, आईटीआई पाठ्यक्रम के लिए पात्रता मानदंड, आईटीआई में कितने कोर्स/ट्रेड होते हैं? आईटीआई कोर्स करने के बाद करियर विकल्प आदि.

ITI ka Full form kya hai?

ITI का फुल फॉर्म ‘Industrial Training Institute‘ होता है और हिंदी भाषा में इसे ‘औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान‘ के नाम से जाना जाता है. यह भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अंडर में चलाया जानेवाला एक technical course है.

इस कोर्स के अंतर्गत trainees को तकनिकी रूप से प्रशिक्षित किया जाता है जहाँ छात्र अपनी पसंद के अनुसार कई सारे ट्रेड्स में से किसी भी ट्रेड का चुनाव करके प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं.

ITI (आईटीआई) क्या है?

ITI (Industrial Training Institute) आमतौर पर 10 वीं कक्षा समाप्त करने के बाद किया जानेवाला एक शॉर्ट टर्म professional technical course है. यह पाठ्यक्रम छात्रों की रूचि के अनुसार कई क्षेत्रों में उपलब्ध है जिसकी चर्चा हम आगे करेंगे.

इसे job oriented कोर्स कहा जा सकता है क्योंकि यह एक technical course है. मौजूदा बाजार में आज कई प्रकार की तकनीशियनों की अच्छी मांग है. इस कोर्स को पूरा करने पर आपको काम कहाँ और किस क्षेत्र में मिलेगा यह निर्भर करता है कि – आपने किस ब्रांच से आईटीआई किया है.

जैसा कि मैं आपको बता चूका हूँ यह एक शॉर्ट टर्म में किया जानेवाला एक professional technical course है जिसकी अवधि आईटीआई द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम के हिसाब से 6 महीने से लेकर के 2 वर्षों तक का हो सकती है.

ITI में नामांकन के लिए अप्लाई कब करे?

ज्ञात हो कि आईटीआई कोर्स देश के सभी राज्यों में सरकारी और निजी संस्थान दोनों जगहों में उपलब्ध हैं. इच्छुक उम्मीदवार यदि इस कोर्स में नामांकन चाहते हैं तो इसके लिए फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते हैं. इसमें नामांकन के लिए आवेदन फॉर्म जुलाई/अगस्त महीने में प्रत्येक वर्ष निकाले जाते हैं. इसके लिए ऑनलाइन भी अप्लाई किया जा सकता है.

इस कोर्स में नामांकन प्राप्त करने के लिए कुछ आवश्यक पात्रता मानदंड (eligibility criteria) होते हैं जिन्हे पूरा करने के बाद ही इच्छुक उमीदवार नामांकन के लिए योग्य हो सकते हैं. चलिए देखते हैं ITI कोर्स में नामांकन के लिए eligibility criteria क्या है-

आईटीआई पाठ्यक्रम के लिए पात्रता मानदंड

जैसा कि मैं बता चूका हूँ कि आमतौर पर 10 वीं पास कर चुके छात्र इस कोर्स को करने के पात्र हैं किन्तु आपको यह भी ध्यान रखना चाहिए कि आईटीआई पाठ्यक्रम विभिन्न प्रकार के होते हैं और विभिन्न पाठ्यक्रम के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता में भी परिवर्तन आ सकती है.

तो चलिए देखते हैं कि आईटीआई पाठ्यक्रम के लिए आवश्यक पात्रता मानदंड क्या – क्या हैं –

  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 8 वीं, 10 वीं या 12 वीं पास होना चाहिए
  • कुछ सरकारी ITI कॉलेजों में entrance exam लिया जाता है जिसे qualify करना जरुरी है
  • ध्यान रहे, कुछ प्रवेश परीक्षा के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा
  • उम्मीदवार की  minimum age 14 वर्ष और maximum age 40 वर्ष के अंदर होना चाहिए
  • कई निजी संस्थान अंकों के आधार पर direct admission की भी पेशकश करते हैं

आईटीआई में कितने कोर्स/ट्रेड होते हैं?

आईटीआई courses की एक लम्बी लिस्ट है किन्तु इसे प्रमुख रूप से दो भागों में विभाजित किया जा सकता है जैसे – engineering और non-engineering कोर्सेस.

इंजीनियरिंग सम्बंधित विषयों में रूचि रखने वाले छात्र engineering ट्रेड के अनुसार कोर्स चुन सकते हैं वहीँ non-engineering ट्रेड्स में रूचि रखनेवाले छात्र इससे सम्बंधित कोर्सेस के साथ आगे जा सकते हैं.

इंजीनियरिंग और गैर-इंजीनियरिंग आईटीआई पाठ्यक्रम की एक लम्बी सूचि है जैसे इलेक्ट्रीशियन, फिटर, वायरमैन, मैकेनिक, यंत्र चालक, कंप्यूटर तकनीशियन, वेल्डर, stenography आदि.

आईटीआई कोर्स करने के बाद करियर विकल्प

आईटीआई course करने के बाद वैसे तो कई प्रकार की नौकरियां बाजार में उपलब्ध हैं किन्तु यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपका कौन सा ट्रेड है. कई सरकारी संस्थाओं में भी आप मौका मिल सकता है जहाँ आईटीआई की मांग होती है.

कई प्रकार की ऐसी vacancies भी निकाली जाती है जहाँ केवल आईटीआई छात्र ही आवेदन करने के पात्र होते हैं. केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा कई विभागों के लिए रिक्तियां निकाली जाती है जहाँ आईटीआई छात्रों को विशेष आरक्षण देने का प्रावधान है.

इस कोर्स को करने के बाद प्राइवेट सेक्टर में भी जॉब के कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं. आपकी कमाई आपकी जॉब role, संस्थान, अनुभव और पद के अनुसार हो सकती है क्योंकि जैसे इस कोर्स को करने के बाद बिजली मिस्त्री, फिटर, वेल्डर, मैकेनिक, यंत्र चालक आदि कार्य करके आय अर्जन किया जा सकता है.

सामान्यतः यदि देखा जाए तो 15 से 20 हज़ार रुपया कम से कम तो कमाया ही जा सकता है जो कार्य अनुभव के साथ बढ़ता ही जाता है. इस कोर्स को करने के बाद एक टीचर के रूप में भी कार्य किया जा सकता है. और यदि आप इसके बाद उच्च शिक्षा हासिल करना चाहते हैं तो भी आपके सामने विकल्प खुले होते हैं.

अंतिम बात : निष्कर्ष

वास्तव में यह कोर्स उनलोगों के लिए एक बेहतर विकल्प है जो तुरंत नौकरी पाना चाहते हैं और पढाई के लिए ज्यादा खर्च करने में सक्षम नहीं हैं. इसकी कोर्स फी कितनी होगी यह अलग – अलग शिक्षण संस्थानों के अनुसार अलग – अलग हो सकती है फिर भी यह फीस आमतौर पर 10 हज़ार से लेकर 50-60 हज़ार रुपया प्रति वर्ष हो सकती है.

यदि आप किसी सरकारी संसथान में नामांकन पाने में सफल हो पाते हैं तो निजी संस्थानों से मुकाबले आप बिलकुल कम खर्च में इस कोर्स को कर पाएंगे. आमतौर पर सरकारी संस्थानों में फीस नहीं लगती है.

एक अन्य महत्वपूर्ण बात यह भी है कि आप आईटीआई पाठ्यक्रम में नामांकन लेने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आप जिस ट्रेड का चुनाव कर रहे हैं वो आपके लायक है या नहीं और बाजार में उसकी कितनी मांग है.

अंत में आशा करता हूँ कि आपको यह लेख जरूर पसंद आयी होगी और यदि पसंद आयी है तो like, share और comment करना न भूलें.

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *