Secured Loan and Unsecured Loan information in Hindi

Secured Loan और  Unsecured Loan हिंदी में 

आज का Article आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्यूंकि आज मैं बात करने वाला हूँ Secured Loan और Unsecured Loan की। आप यदि सोंच रहे हैं की यह इतना क्यों महत्वपूर्ण है तो इसका जवाब है की आप जब भी किसी बैंक में Loan Apply करने जायेंगे तो यह आपको मदद करेगा Decisions लेने में। कुछ जानकारियां ऐसी होती हैं जिसे जानना हर किसी के लिए आवश्यक है।

दोस्तों दोनों ही तरह के Loan के क्या फायदे हैं तथा क्या नुकशान हैं बहुत ही आसानी से जानेंगे आज के Article में।  कई बार हमारे जीवन में ऐसी परिस्थितियां आती हैं जहाँ हमे Loan लेना जरुरी हो जाता है। Loan के हर पहलु को जाने बिना उठाया गया कदम नुकसानदायक साबित हो सकता है। तो सबसे पहले हम बात करेंगे Secured Loan की।

Secured Loan क्या है

Secured Loan – इसप्रकार का Loan देने के लिए Bank आपसे कोई चीज गिरवी रखवाती है। आप किसी  तरह का संपत्ति गिरवी रखकर ही Secured Loan प्राप्त कर सकते हैं। इसप्रकार के केस में आपके द्वारा कोई Security रखी जाती है इसीलिए इसे Secured Loan के नाम से जाना जाता है। यह Property के against दिया जानेवाला Loan है।

यदि हम उदारहण के रूप में देखें तो जब आप मकान बनाने के लिए Home Loan या Loan against property लेते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको मकान को या कोई Property को गिरवी रखनी पड़ती है ठीक इसी तरह का केस आपकी गाड़ी के Loan में भी होती है जहाँ आपको अपनी गाड़ी को ही गिरवी रखनी पड़ती  है। Business Loan के अंदर आपको Goods, Machinery या Business से related किसी भी तरह के Stock को गिरवी रखनी पड़ती  है तथा ठीक इसीप्रकार Gold Loan में आपको Gold को गिरवी रखकर Loan प्राप्त करना पड़ता है। अब तो आप समझ ही गए होंगे की इसे Property के against दिया जानेवाला Loan क्यों कहते हैं। याद रखें जब तक आप Loan को चूका नहीं देते हैं तब तक उस संपत्ति पर आपका स्वामित्व नहीं होता।
Secured Loan के अंतर्गत कौन – कौन से Loan आते हैं
Secured Business Loan
Car Loan 
Home Loan 
Gold Loan 
Loan against Property
Secured Loan लेने के फायदे – आपको इस तरह का लोन क्यों लेना चाहिये 

जैसा के आप समझ ही चुके हैं की यह लोन आपकी संपत्ति के against में दिया जाता है जहाँ पर लोन देने वाली कंपनी या बैंक जो आपको लोन दे रही है उसको Risk कम होता है क्यूंकि वे आपके द्वारा लोन नहीं चुकाने पर आपके Assets को बेंच कर अपने लोन की Recovery कर सकते हैं।

अतः ये पूरी तरह से Secured होने के कारण इसका Rate of Interest कम होता है।

कर्ज नहीं चुकाने पर आपको होनेवाला नुक्सान 
क्या हो सकता है यदि आप इसतरह का लोन नहीं चुकाते हैं-

आप हमेशा यह ध्यान रखिये की जब भी आपको इसतरह का लोन दिया जाता है तो आपकी Assets value से कम ही लोन दिया जाता है और आप यह कभी नहीं चाहेंगे की आपकी संपत्ति को नीलाम किया जाय या बेंचा जाय।

Unsecured Loan क्या है ?

Unsecured Loan बिना किसी  प्रकार के सुरक्षा गारंटी के दिया जानेवाला लोन को Unsecured Loan कहते हैं। यहाँ कोई Security नहीं होती है तथा यह कर्ज लेने वाले व्यक्ति की  वित्तीय स्थिति को देखकर ही लोन दिया जाता है जहाँ कोई संपत्ति आपको गिरवी नहीं रखनी पड़ती है। यहाँ Rate of Interest ज्यादा होता है क्यूंकि यहाँ बैंक का रिस्क बढ़ जाता है। Bank का रिस्क बढ़ने का कारण यह है की इसतरह के लोन में बैंक के पास ऐसा कोई सामान नहीं होता है  जिसको बेंचकर वह अपना लोन Recover कर सके ऐसी स्थिति में बैंक का Risk बढ़ जाता है और जाहिर सी बात है की रिस्क बढ़ेगा तो Rate of Interest भी बढ़ेगा। सामान्यतः Unsecured Business Loan लोग अपने कारोबार के लिए लेते हैं खासकर Working Capital management के लिए। 

Unsecured Loan के अंदर कौन-कौन से Loan आते हैं
Personal Loan
Unsecured Business Loan
Education Loan
Bank Overdraft
Credit Card Loan
Unsecured Loan आप कैसे  प्राप्त कर सकते हैं 

यदि आपका Cibil Score अच्छा है, आपने समय से पूर्व में लिए हुए लोन को चुकता कर दिया है या आपका Credit History अच्छा है, यदि आपका कोई Credit Card चल रहा है तो आपका काम और आसान हो जाता है। जहाँ Secured Loan लेने के लिए आपको बहुत ज्यादा Paper Work करना पड़ता है वहीँ Unsecured Loan में Paper Work ज्यादा होता नहीं है। इसका Approval जल्दी हो जाता है। 

 
क्या होगा यदि आप Unsecured Loan नहीं चुकाते हैं

आपका Cibil Score काफी ख़राब हो जायेगा जिसको बढ़ाने में आपको काफी समय लग सकता है। आपका Cibil Score ख़राब जो जाने से हो सकता है भविष्य में आपको कोई लोन न मिले। आपलोगों से मेरा सलाह यही है की आप किसी भी प्रकार के बैंक लोन को Default नहीं करें। आप जिस प्रकार का भी लोन लें आपको तो उसका Payment हर हाल में करना ही पड़ेगा तो क्यों न हम समय से Payment करें जिससे हमारा Cibil Score पर कोई प्रभाव नहीं पड़े। 

 

अंत में कुछ  महत्वपूर्ण बातें –

बैंक आर्थिक स्तिथि के हिसाब से लोन देते हैं जहाँ हर कोई अपनी जरुरत के हिसाब से लोन ले सकता है। 
Secured Loan के अपेक्षा Unsecured Loan जल्दी मंजूर हो जाते हैं। 
Secured Loan का ब्याज दर Unsecured Loan से कम होती है। 
Education Loan आपको तब चुकाने पड़ते हैं जब आपकी शिक्षा पूरी हो जाती है। 
आज के लेख में बस इतना ही, आगे मैं आपलोगों के लिए इसीप्रकार के महत्वपूर्ण जानकारी लाऊंगा। तबतक के लिए बने रहें मेरे ब्लॉग के साथ और हाँ आज का लेख आपको कैसा लगा कमेंट बॉक्स में जरूर कमेंट करें। 

Leave a Reply

%d bloggers like this: