SIP-me-nivesh-kaise-kare

SIP me nivesh kaise kare? SIP क्या है और कैसे काम करता है?

Finance Interesting Story

By Lal Anant Nath Shahdeo ¦ Updated on : 23.02.2020

यदि आप लम्बे समय के लिए निवेश करना चाहते हैं और ऐसे ही कोई विकल्प की तलाश कर रहे हैं तो आज का हमारा ये लेख SIP me nivesh kaise kare ध्यान से पढ़े. आपको आपके सवालों का जवाब मिल जायेगा.

जिन लोगों को ये पता नही है कि SIP क्या है उन लोगों के लिए आज का लेख लाभकारी सिद्ध होगा. आज हम आपको बताएँगे की SIP क्या है? इसमें निवेश कैसे किया जाता है, क्या – क्या फायदे हैं निवेश करने के इत्यादि.

बहुत सारे ऐसे लोग होते हैं जो निवेश तो करना चाहते हैं किन्तु उन्हें ये पता नहीं होता है कि निवेश कहाँ करें? कहाँ और कैसे निवेश करें कि अच्छा return मिले? जानकारी के आभाव में ऐसे लोगों की मुश्किलें बढ़ जाती है.

जो लोग निवेश करना चाहते हैं उनलोगों के लिए SIP एक सुरक्षित और बेहतर विकल्प है. बीते कुछ वर्षों में SIP लोगों के लिए एक पसंददीदा निवेश के विकल्प के रूप में उभरा है. यह एक ऐसा विषय है जो वर्तमान समय में बहुत ज्यादा सर्च किया जा रहा है.

SIP क्या है?

SIP जिसका पूर्ण रूप Systematic Investment Plan (सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान) है. इसे आप कह सकते हैं एक व्यवस्थित निवेश योजना. इस योजना के तहत आपको एकमुश्त रकम निवेश करने के बजाय छोटी मात्रा में निवेश करने का अवसर प्रदान करता है. यहाँ पर निवेश मासिक/त्रैमासिक/साप्ताहिक होता है. निवेशक यहाँ पर अपनी सहूलियत के अनुसार रकम की मात्रा और समयावधि का चुनाव कर सकता है.

जिन लोगों को शेयर मार्केट के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है वैसे लोग SIP के जरिये निवेश कर सकते हैं. निवेशक को Mutual fund, Share market या गोल्ड पर निवेश करना पड़ता है. यहाँ पर निवेश एक निश्चित अवधि के लिए निर्धारित राशि का किया जाता है. यह प्लान आपको आपके पसंदीदा म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने का अवसर प्रदान करता है.

SIP के फायदे

कम जोखिम में निवेश करने का यह एक शानदार तरीका है. जानकारों का मानना है की SIP में निवेश करने से एक अच्छा return प्राप्त होने की सम्भावना बढ़ जाती है. नौकरी पेशा लोगों के लिए यह निवेश का एक सरल विकल्प है.

यह उनलोगों को भी निवेश करने का अवसर प्रदान करता है जो लोग बड़ी निवेश नहीं कर सकते हैं. कम बजट वाले लोग भी इसके जरिये निवेश कर सकते हैं. इसके जरिये 500/1000 रुपया के न्यूनतम राशि से भी इन्वेस्ट किया जा सकता है. इसका सबसे अच्छा फ़ायदा यह है कि लम्बे समय तक छोटी निवेश करके अच्छा रिटर्न प्राप्त किया जा सकता है.

See Also :

› New Income Tax Slabs 2020 : जानिये इनकम टैक्स की दरों में क्या बदलाव हुए हैं.

यदि आप लम्बे समय के लिए निवेश कर रहे हैं तो जो आपको रिटर्न प्राप्त होगा उस प्राप्त की गयी रिटर्न पर भी आपको रिटर्न मिलेगा अर्थात व्याज पर भी ब्याज मिलेगा. ब्याज पर ब्याज मिलने की प्रक्रिया compounding कहलाता है. इसतरह आपको यहाँ compounding का लाभ प्राप्त होता है परिणामस्वरूप आपका फण्ड इसी अनुपात में बढ़ता जायेगा.

जरुरत के अनुसार निवेशक के द्वारा निर्धारित की गयी राशि को घटाने और बढाने का भी विकल्प यहाँ पर होता है.

SIP me nivesh kaise kare?

जैसा की मैं आपको बता चूका हूँ कि माध्यम वर्ग वाले लोग भी SIP के जरिये निवेश न्यूनतम 500/1000 रुपया से कर सकते हैं. इसमें एक निश्चित समय में एक निश्चित राशि डाली जाती है जिसे आप अपने हिसाब से घटा या बढ़ा सकते हैं.

SIP शुरू करना कोई मुश्किल काम नहीं है यह बहुत ही आसान है. किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट के माध्यम से इसे आप शुरू कर सकते हैं. इसे शुरू करने के अन्य माध्यम भी हैं जैसे ऑनलाइन माध्यम. ऑनलाइन निवेश करने के लिए आप म्यूच्यूअल फण्ड की वेबसाइट में सीधे जाकर बहुत सारे schemes में निवेश कर सकते हैं. इसके लिए आपको वेबसाइट में जाकर sign up करके अकाउंट बनाना होगा और साथ ही बैंक खाता का details देना होगा.

निवेश करने के लिए कुछ जरुरी डॉक्यूमेंटेशन करना पड़ता है जो कि एक सामान्य प्रक्रिया है. डॉक्यूमेंटेशन के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, अकाउंट नंबर, पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ मोबाइल नंबर आदि की जरुरत पड़ती है. इन चीजों की जरुरत KYC करने के लिए किया जाता है. आप चाहें तो ऑनलाइन KYC जिसे E – KYC कहा जाता है के द्वारा भी इस प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं.

निवेश की सुरक्षा

जब आप कहीं निवेश करते हैं तो एक बार अवश्य इसकी सुरक्षा की चिंता आपको रहती होगी. इसके लिए यहाँ पर आपको नॉमिनी करने का भी option मिलता है.

अंत में दो बातें आपसे

आशा करता हूँ की आज का ये पोस्ट SIP me nivesh kaise kare आपको पसंद आई होगी. लगभग हर कोई अपना भविष्य सुरक्षित करने के उद्देश्य से अपनी कमाई का कुछ हिस्सा जरुर बचाता है.

बचत जरुरी है किन्तु जब भी आप कोई नयी स्कीम्स के तहत कोई निवेश करने जा रहे हैं तो मेरी राय यही है कि आप उस स्कीम्स की पूरी तरह से जानकारी प्राप्त कर लें. पूरी पड़ताल के पश्चात ही जब आप अच्छी तरह से satisfied हो जाएँ तब ही आगे कदम बढ़ाएं. कहीं ऐसा न हो की जो स्कीम में आप निवेश कर रहे हैं वो आपके लिए suitable न हो.

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *