Trading account kya hai?

Trading Account kya hai? जानिये यह demat account से किसप्रकार भिन्न है

Finance Interesting Story

Trading account को समझने से पहले आपको Demat account को समझना जरुरी है, तभी आप इन दोनों खातों के बीच के फर्क को समझ पायेंगे. ये दोनों ही accounts share market में निवेश करने के लिए जरुरी है. ऐसे तो मैं demat account क्या है? इस विषय पर मैं एक post लिख चुका हूँ फिर भी पहले हम संक्षेप में समझ लेते हैं demat account के बारे में :

Demat Account वास्तव में एक ऐसा account होता है जहाँ पर stock market से ख़रीदे गये सभी shares electronic रूप में रखे जाते हैं. सरल शब्दों में यदि कहा जाये तो हम कह सकते हैं कि demat account एक भंडार के जैसा है, जब हम कोई share खरीदते हैं तो यहाँ पर जमा हो जाता है और जब कोई share बेंचते हैं तो यहाँ से निकल जाता है.

आमतौर पर trading account और demat account एक साथ ही खोले जाते हैं जिसके कारण ज्यादातर लोगों को इन दोनों खातों के बीच के अंतर जल्दी समझ में नहीं आता है. आज के लेख में हम clearly समझने का प्रयास करेंगे कि trading account क्या है? trading account और demat account में क्या अंतर है?

Trading Account kya hai?

शेयरों की खरीद बिक्री trading account के जरिये ही किया जा सकता है. इस account के द्वारा ही share खरीदने और बेंचने का order stock exchange पर भेजा जाता है.

Trading account के द्वारा हम ख़रीदे गये shares की payment कर पाते हैं और बेंचे गये shares की राशि हमारे trading account में आती है जिस राशि को saving account में transfer किया जा सकता है.

Share market से shares खरीदने के लिए पैसों का लेन – देन करना हो या shares खरीदने तथा बेंचने के लिए stock broker को आर्डर देना हो, trading account का इस्तेमाल किया जाता है.

आईये इसे एक छोटे से उदहारण के द्वारा समझने का प्रयास करते हैं, मान लेते हैं कि आप शेयर बाज़ार से किसी कंपनी के 8 shares खरीदना चाहते हैं तो पहले आपको अपने bank account से पैसा transfer आपके trading account में करना होगा. अब आप trading account का इस्तेमाल करके इन 8 शेयरों को खरीद सकते हैं और इसके पश्चात इन ख़रीदे गये shares को demat account में रखा जायेगा.

हमारा जो trading account होता है उसे demat account के साथ link कर दिया जाता है. Trading account की मदद से जो shares हम खरीदते हैं वह demat account में जमा हो जाता है. जितने मूल्य का share ख़रीदा जाता है, उतना मूल्य, tax और ब्रोकरेज चार्ज के पैसे हमारे ट्रेडिंग अकाउंट से कट जाते हैं.

ठीक इसी तरह जब हम share बेंचते हैं तो जितना शेयर बेंचते हैं उतना शेयर हमारे demat account से कम हो जाता है और बेंचे गये शेयर का पैसा टैक्स और ब्रोकरेज चार्ज कटने के बाद हमारा ट्रेडिंग अकाउंट में जमा हो जाता है.

Trading Account की मुख्य विशेषताएं

⇒ Share market में trading करने के लिए trading account होना चाहिए

⇒ कोई भी व्यक्ति शेयर बाज़ार से शेयर खरीदने या बेंचने के लिए directly order नहीं दे सकता है, इसके लिए trading account चाहिए.

⇒ खरीदे गये shares का payment करना हो या बेंचे गये shares की राशि पाना हो, ट्रेडिंग अकाउंट चाहिए.

⇒ बेंचे गये shares की राशि trading account में आती है जिसे saving account में transfer किया जा सकता है.

⇒ ट्रेडिंग अकाउंट से शेयर खरीदने पर पैसा कटना और शेयर बेंचने पर पैसे आना यह सब automatic होता है.

⇒ ट्रेडिंग अकाउंट से आप दुनिया में कहीं भी रहते हुए शेयर्स खरीद और बेंच सकते हैं

⇒ Sell और buy के orders स्टॉक market तक पहुँचाने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट का उपयोग किया जाता है

Mutual Funds में निवेश के लिए भी ट्रेडिंग अकाउंट की आवश्यकता होती है

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *