turnover kya hota hai

Turnover क्या होता है? टर्नओवर की गणना कैसे करते हैं?-महत्त्व

Finance

जब हम किसी बिजनेस की बात करते हैं तो हम कई तरह की बिजनेस लैंग्वेज का इस्तेमाल करते हैं और टर्नओवर शब्द उनमें से एक है. हम अक्सर इस शब्द को सुनते हैं लेकिन बहुत से लोग इस शब्द को गहराई से समझ नहीं पाते हैं.

इसका क्या मतलब होता है जब हम कभी सुनते हैं कि किसी कंपनी का टर्नओवर इतना लाख करोड़ है? वास्तव में टर्नओवर एक वित्तीय शब्द है और ऐसी गतिविधियों में शामिल लोगों को इसके बारे में अवश्य पता होना चाहिए. यदि आप इसके बारे में नहीं जानते हैं और जानना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए बहुत उपयोगी है.

आइए जानते हैं कि बिजनेस टर्नओवर क्या है? इसकी गणना कैसे करें? हिंदी में टर्नओवर का क्या मतलब होता है? बिजनेस टर्नओवर की परिभाषा क्या होता है?

Turnover क्या होता है? (What is Turn Over in Hindi)

टर्नओवर एक वित्तीय शब्द है और इस शब्द का उपयोग किसी व्यवसाय के वार्षिक कारोबार को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है. इसका मतलब यह है कि कोई कंपनी एक साल में जितने रुपये का कारोबार करती है, वह उस साल का उस कंपनी का टर्नओवर कहलाता है.

इसे आप एक निश्चित अवधि में बिक्री के माध्यम से व्यवसाय द्वारा अर्जित कुल पूंजी भी कह सकते हैं. यह किसी भी खर्च और परिचालन लागत (operating costs) में कटौती करने से पहले व्यवसाय में आनेवाला पैसा है इसतरह से यह प्रॉफिट से अलग है. टर्नओवर और प्रॉफिट दोनों अलग-अलग हैं.

टर्नओवर की गणना कैसे करते हैं?

जब आप अपनी बिक्री का सटीक रिकॉर्ड रखते हैं तो टर्नओवर की गणना करना काफी आसान होता है. जैसा कि आप टर्नओवर के बारे में समझ चुके हैं, यह एक निश्चित अवधि में व्यवसाय द्वारा बिक्री के माध्यम से अर्जित की गई कुल पूंजी है.

इस प्रकार टर्नओवर आपके द्वारा बेचे गए उत्पादों का कुल बिक्री मूल्य होगा और यदि आप एक सेवा प्रदाता हैं तो यह वह होगा जो आपने सेवाओं के लिए चार्ज किया है.

टर्नओवर किसी भी व्यवसाय के लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

अधिक टर्नओवर निवेशकों को व्यवसाय की ओर आकर्षित करता है साथ ही यह व्यावसायिक सफलता का संकेत देता है. उद्यमी अपने व्यवसाय के टर्नओवर का विश्लेषण करके कई निर्णय और योजनाएँ बना सकते हैं, जैसे कि यदि अर्जित कुल लाभ टर्नओवर की तुलना में बहुत कम है, तो उद्यमी बिक्री की लागत को कम करने के बारे में सोच सकते हैं.

वार्षिक टर्नओवर कंपनी की बाजार की ताकत और ग्राहकों के बीच कंपनी की छवि को दर्शाता है. अगर कोई कंपनी किसी टेंडर में हिस्सा लेती है तो ऐसे कई टेंडर होते हैं जहां सिर्फ ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियां ही हिस्सा ले सकती हैं, ऐसे में ज्यादा टर्नओवर होना फायदेमंद होता है.

आप विभिन्न अवधियों के टर्नओवर की तुलना करके पता कर सकते हैं कि आपका व्यवसाय बढ़ रहा है घट रहा है इसीलिए अपने टर्नओवर को समझना किसी भी व्यवसाय के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है.

Lal Anant Nath Shahdeo

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

https://www.aryavartatalk.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *